Featured Posts

header ads

Warm-up या stretching करने के फायदे एवं तरीके।

Warm-up या stretching करने के फायदे एवं तरीके।


Hello dosto,


आपने अक्सर लोगो को जीम में वार्मअप या स्ट्रैचिंग करते हुए देखा होगा। वार्मअप या स्ट्रैचिंग दूसरे खेलों में खेलने से पहले भी किया जाता है। जैसे:-कुश्ती, क्रिकेट, कबड्डी आदि।ऐसा कोई पहलवान या खिलाड़ी नहीं होगा जिसे कसरत करते या खेलते समय चोट या मोच ना आई हो। वार्मअप या स्ट्रैचिंग ये दो ऐसी कसरत है जो आपको हमेशा जीम या किसी भी खेल को खेलने से पहले जरूर करनी चाहिए।तो आइये जानते है कि वार्मअप या स्ट्रैचिंग करने के फायदे व तरीके।


Warm-up या stretching करने के फायदे एवं तरीके।
Warm-up

Warm-up या stretching करने के फायदे।


• जीम करने से पहले वार्मअप जरूर करनी चाहिए जिससे 
  आपके शरीर में रक्त का प्रवाह तेज होता है और आपका 
  शरीर एक्टिव हो जाता है।

• वार्मअप करने से आपके शरीर में तन्दरूस्ती आ जाती है 
  जिससे आपको कसरत करते समय नींद या आलस्य का 
  अभाव नहीं रहता है।

• वार्मअप या स्ट्रैचिंग करने से आपको किसी भी तरह की चोट
  या मोच का खतरा कम रहता है।

• किसी कसरत को गलत तरीके से करने पर भी आपको चोट
  का खतरा कम रहता है।

• वार्मअप या स्ट्रैचिंग करने से आपके शरीर में मांसपेशियों का
  विकास जल्दी होता है।

• इसे करने से आपके शरीर का संतुलन एक जैसा बना रहता 
  है।

Warm-up या stretching करने के तरीके।


Warm-up या stretching करने के फायदे एवं तरीके।
Warm-up

               Warm-up करने के तरीके।

• वार्मअप करने के लिए आप जीम मे रस्सी कूद,साइकलिंग 
  या फिर ट्रेडमिल भी कर सकते है।

• अगर आप घर पर वार्मअप करना चाहते है तो उसके लिए 
  आप एक जगह खड़े होकर अपने दोनो हाथो को उपर नीचे
  करते हुए कूद सकते है नहीं तो आप दौड़ कर या उठक 
  बैठक लगाकर भी वार्मअप कर सकते है।

                Stretching करने के तरीके।

• स्ट्रैचिंग करने के लिए आप एक जगह खड़े होकर अपने 
  शरीर को दाए से बाएं या उपर से नीचे जुकाना होता है।  

• स्ट्रैचिंग करते समय एक बात का ध्यान रखे की जिस जगह 
  को आप स्ट्रैच कर रहे हो उस जगह को आप 5 से 10
  सैकंड तक रोक कर रखे।


ध्यान देने योग्य:-

वार्मअप या स्ट्रैचिंग आपको पूरे शरीर का करना है यानी शरीर के ऊपर वाले और नीचे वाले हिस्से  दोनो को करना है जीम करते समय सबसे ज्यादा चोट आने वाला हिस्सा शॉल्डर और लोवर बेक है। और आप इतना वार्मअप भी ना करे कि की आप कसरत शुरू करने के पहले ही थक जाए।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ